बाइडन के प्रशासन ने डोनाल्ड ट्रंप प्रशासन के फैसले को रखा बरकरार, चीन को दी चेतावनी
s

वाशिंगटनः अमेरिका में राष्ट्रपति जो बाइडन के प्रशासन ने दक्षिण चीन सागर में चीन के लगभग सभी अहम समुद्री दावों को खारिज करने के पूर्ववर्ती डोनाल्ड ट्रंप प्रशासन के फैसले को रविवार को बरकरार रखा। प्रशासन ने चीन को चेतावनी भी दी कि विवादित क्षेत्र में फिलीपीन पर अगर किसी भी तरह का हमला हुआ तो अमेरिका एक पारस्परिक रक्षा संधि के तहत जवाबी कार्रवाई करेगा।

विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकेन की ओर से यह कड़ा संदेश चीन के दावों के खिलाफ फिलिपीन के पक्ष में अंतरराष्ट्रीय न्यायाधिकरण के फैसले के इस सप्ताह पांच साल पूरा होने से पहले जारी एक बयान में सामने आया है। हालांकि चीन इस फैसले को खारिज करता है। पिछले साल ट्रंप प्रशासन ने न्यायाधिकरण के फैसले के प्रति समर्थन जताया था और यह भी कहा था कि वह चीन के अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मान्यता प्राप्त जलक्षेत्र के बाहर दक्षिण चीन सागर में उसके लगभग सभी समुद्री दावों को अवैध मानता है।

रविवार के बयान में, ट्रंप प्रशासन में विदेश मंत्री रहे माइक पोम्पिओ की इन्हीं बातों को दोहराया गया है। ब्लिंकन ने पोम्पिओ के समान भाषा का इस्तेमाल करते हुए कहा, ''दक्षिण चीन सागर की तुलना में कहीं भी नियम-आधारित समुद्री व्यवस्था अधिक खतरे में नहीं है।'' उन्होंने चीन पर इस महत्वपूर्ण वैश्विक रास्ते में नौवहन की स्वतंत्रता के लिए खतरा पैदा करने और दक्षिण पूर्वी एशियाई तटीय देशों को मजबूर करने तथा डराने-धमकाने का आरोप लगाया।

Share this story