क्या भाप से शिशु की बंद नाक खुलने में मदद मिलती है? मैं शिशु को किस तरह भाप दूं?

क्या भाप से शिशु की बंद नाक खुलने में मदद मिलती है? मैं शिशु को किस तरह भाप दूं?

नई दिल्ली। कोरोनावायरस की दूसरी लहर ने लोगों को ज्यादा नुकसान पहुंचाया है। इस वायरस की चपेट में बुजुर्ग और युवा तो थे ही, अब बच्चे भी इसकी चपेट में आ रहे हैं। बच्चों तक इस वायरस की दस्तक दिल को दहला रही है, इसलिए इस वायरस से बचाव के लिए लोग तरह-तरह के नुस्खें आजमा रहे हैं। सर्दी जुकाम या खांसी होने पर अक्सर हम लोग भाप लेते हैं, लेकिन अब यह वायरस बच्चों तक पहुंच रहा है तो सवाल यह उठता है कि क्या बच्चों को सर्दी जुकाम होने पर भाप दिला सकते हैं?

कई रिसर्च में यह बात सामने आ चुकी है कि भाप बंद नाक खोलने में मदद करती है। अगर हम बच्चे को गर्म पानी से भाप दिलाते हैं तो हवा में मौजूद नमी बच्चे की नाक में जमा म्यूकस को ढीला कर सकती है, और उसे सांस लेने में आसानी हो सकती है। कोरोनाकाल में बच्चों को खांसी और जुकाम से राहत दिलाने में भाप बेहद मददगार है। लेकिन बच्चे के लिए भाप लेना कई तरीकों से खतरनाक भी हो सकता है। भाप लेते समय बच्चे के जलने का खतरा हो सकता है।

आइए जानते हैं कि बच्चे को भाप लेते में किन-किन सावधानियों का पालन करना चाहिए।

  • अगर आप बच्चे को भाप दिलाना चाहते है तो भाप लेने के लिए वेपराइजर या ह्यूमिडिफायर का इस्तेमाल करें। वेपराइजर पानी को गर्म करता है, और गर्म पानी से भाप लेने से नाक की ब्लॉकेज कम करता है। वहीं ह्यूमिडिफायर बच्चों के लिए ज्यादा महफूज है, क्योंकि इसमें गर्म पानी नहीं होता। वेपराइजर और ह्यूमिडिफायर दोनों ही हवा में नमी लाते हैं जिससे जुकाम के लक्षण को कम करने में मदद मिलती है।
  • वेपराइजर या ह्यूमिडिफायर से बच्चे को भाप दिलाने के लिए डिवाइज को बच्चे के पास रखें, ताकि बच्चे को पानी की नमी मिलती रहे।
  • हॉट स्टीम वैपराइजर को लेकर ज्यादा सावधान रहें, क्योंकि इससे पानी गिर सकता है जिससे बच्चा जल सकता है।
  • डिवाइज की साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखें वरना इससे संक्रमण फैलने का खतरा हो सकता है।
  • गर्म भाप वाले वेपोराइजर के इस्तेमाल में सावधानी बरतें क्योंकि गर्म पानी छलक सकता है और अगर बच्चा बहुत नजदीक हो तो वह गर्म भाप से जल भी सकता है।
  • आप ऑटोमेटिक बंद होने वाले ह्यूमिडिफायर या वेपोराइजर का इस्तेमाल करें। इनमें तय समय के बाद या पानी खत्म होने पर उपकरण अपने आप बंद हो जाता है।
  • अगर आपका बच्चा भाप बिल्कुल भी नहीं लेना चाहता, तो उसके साथ जबरदस्ती न करें।

Share this story