दिल्ली-LNJP में इंजेक्शन देने से फंगस के मरीजों की तबीयत बिगड़ी

दिल्ली-LNJP में इंजेक्शन देने से फंगस के मरीजों की तबीयत बिगड़ी

लोकनायक अस्पताल में भर्ती फंगस के मरीजों को दिए गए इंजेक्शन के दुष्प्रभाव से सात मरीजों की तबीयत बिगड़ने का मामला सामने आया है। फंगस के ये मरीज कोरोना नेगेटिव वार्ड में भर्ती हैं। वहीं, दूसरे वार्ड (कोरोना पाजिटिव) में भी मरीजों के प्रभावित होने की बात कही जा रही है। जानकारी के मुताबिक मरीजों को एंफोटेरिसिन बी इंजेक्शन की सामान्य डोज दी गई थी। मरीजों के स्वजनों का आरोप है कि इससे पहले मरीजों को लाइपोजोमल एंफोटेरिसिन बी इंजेक्शन दिया जा रहा था।

उससे कोई परेशानी नहीं हुई थी, जबकि शनिवार दोपहर को जब यह दूसरी तरह का इंजेक्शन ग्लूकोज की बोतल में घोलकर चढ़ाया गया तो आधे घंटे में ही मरीजों को तजे कंपकपी के साथ बुखार, उल्टी और दस्त की शिकायत हो गई। हालत बिगड़ते देख डाक्टरों ने तुरंत बोतल चढ़ाना बंद कर दिया।

अस्पताल में भर्ती मरीज नर्मदा देवी के स्वजन ने बताया कि उनकी मां 17 मई से अस्पताल में भर्ती हैं। उनकी 25 मई को सर्जरी हुई है। भर्ती होने के साथ से ही मरीज को लगातार फंगस के इंजेक्शन दिए जा रहे थे, लेकिन दोपहर में दिए गए इंजेक्शन से उनके मरीज को ठंड के साथ तेज बुखार आ गया और उल्टियां भी होने लगीं। वहीं, अस्पताल में भर्ती एक अन्य मरीज की पत्नी ने बताया कि उनके पति को इंजेक्शन की सिर्फ 10 एमएल डोज ही चढ़ पाई थी। इतनी ही देर में तबीयत खराब हो गई। वहीं, अन्य मरीजों में गीता, शीशपाल, अनिल व अशोक शामिल हैं।

मरीजों की हालत बिगड़ते ही अस्पताल में हड़कंप मच गया, साथ ही एक अधिकारी द्वारा तुरंत स्टोर से एंफोटेरिसिन बी इंजेक्शन की सामान्य डोज के इस्तेमाल को रोकने का एक मैसेज अस्पताल के वाट्सएप ग्रुप में डाल दिया। इसके बाद मरीजों की हालत क्यों बिगड़ी इसकी जांच पड़ताल शुरू कर दी गई।

अस्पताल के चिकित्सा निदेशक डाक्टर सुरेश कुमार ने सिर्फ दो मरीजों को हल्की ठंड के साथ बुखार आने की बात कही। उन्होंने मरीजों को गलत इंजेक्शन दिए जाने की बात से इन्कार किया है। उन्होंने बताया कि मरीजों को पहले से ही दोनों तरह के इंजेक्शन लाइपोजोमल एंफोटेरिसिन बी और एंफोटेरिसिन बी की सामान्य डोज दिए जा रहे हैं। इस बार इंजेक्शन देने से परेशानी क्यों हुई इस बात की जानकारी ली जा रही है। अस्पताल में फंगस के कुल 70 मरीज भर्ती हैं।

Share this story