सरकार ने नए कानून को दी मंजूरी पहली बार मिलेंगे ये अधिकार, किराए पर रहने वालों के लिए ये बड़ी खबर है
सरकार ने नए कानून को दी मंजूरी पहली बार मिलेंगे ये अधिकार, किराए पर रहने वालों के लिए ये बड़ी खबर है

बोकारो से संगीता की रिपोर्ट

किराए के कानून पर बड़ा फैसला कल लिया गया। केंद्र सरकार ने इससे जुड़ी नई योजना को मंजूरी दे दी है। बुधवार को केंद्रीय कैबिनेट की बैठक हुई जिसमें प्रधानमंत्री मोदी की अध्यक्षता में यह बैठक बुलाई गई थी।इस बैठक में किराए के कानून पर बड़ा फैसला लिया गया सभी प्रदेशों में समान रूप से लागू होगा सर्वे में कहा गया कि मॉडल टिनेंसी एक्ट को नए रूप में लागू किया जाए या फिर पहले से चले आ रहे हैं रेंट कानून को संशोधित कर लागू किया जाए। इस कानून को आप आदर्श किराया कानून कह सकते हैं मॉडल टिनेंसी एक्ट मे राज्यों में इससे संबंधित एक्ट बनाने का प्रस्ताव है। प्रॉपर्टी मालिक और किराएदार दोनों को एग्रीमेंट साइन करने के बाद संबंधीत ऑथरिटी को मासिक किराया, किराए की अवधि और मकान मालिक और किराएदार पर रिपेयरिंग के छोटे बड़े काम की जिम्मेदारी जैसी तमाम जानकारी देनी होगी बाद में अगर कोई विवाद हुआ तो दोनों पक्ष ऑथरिटी के पास जा पाएगा।

कैसा होगा नए कानून:-

नए कानून के बारे में कहा गया है कि रेंट से संबंधित पूरे कानूनी ढांचे में बड़ा बदलाव करने का एक निर्देश आया है। जिसमें रेंटल हाउसिंग में तेजी से प्रगति होगी। इस नए कानून की मदद से देश में रेंटल हाउसिंग मार्केट को बढ़ाने की कवायद है जिन लोगों को बेघर होने की समस्या से जूझनी पड़ती है उन्हें भी इस कानून से बड़ी मदद मिलेगी इस कानून पर लंबे दिनों से चर्चा चल रही थी इसे बड़े परिवर्तन की मांग उठाई जा रही थी। वही मॉडल टेनेंसी एक्ट की मदद से रेंटल हाउसिंग के काम और इस क्षेत्र में आने वाले तमाम प्रॉपर्टी को तथागत का ख्याल का अधिकार मिल जाएगा अब नियम कानून के दायरे में होगी इसकी खरीद बिक्री या किराए का पूरा कानून होगा लोगों को प्रॉपर्टी रेट पर लेने में आसानी होगी धोखाधड़ी या प्रताड़ना से बचने का पूरा अधिकार मिलेगा नए कानून के आ जाने से रेंट हाउस को एक औपचारिकता बाजार में तैयार है।जिसे कई क्षेत्रों में विकास होगा नया कानून अमल में आने के बाद में मतदान या प्रॉपर्टी बाजार का हिस्सा हो जाएंगे तो काफी अर्थीक  तंकी बंद हो जाएगी। नया कानून पर प्रॉपर्टी को किराए पर रहने का अधिकार देगा मकान मालिक के भी अधिकार सुरक्षित रहें इस तरह की सुविधा मिलेगी हाउसिंग में निजी लोगों या कंपनी की हिस्सेदारी बढ़ जाएगी आजकल रेंट का बिजनेस भी काफी सही है इसलिए कई एजेंसी का इस काम में लगी है प्रॉपर्टी मालिक और किराए पर मकान लेने वालों की लिस्ट होती हैं।


मकान मालिक और रेंटल को मिलेगी कई अधिकार इस कानून को लागू न कराने पर पूरा अधिकार राज्य पर होगा नया कानून बनने से रेंट के साथ-साथ मकान मालिक को भी कई अधिकार मिलेंगे मकान या प्रॉपर्टी के मालिक और किराएदार में किसी बात को लेकर विवाद होता है तो उसे सुलझाने का दोनों का कानून अधिकार मिलेगा नहीं कर सकता मकान मालिक भी किरदार को परेशान कर घर खाली करने के लिए नहीं कर सकता इसके लिए जरूरी प्रावधान बनाए गए हैं इस बात का ध्यान रखना होगा दूसरे की प्रॉपर्टी व उस की देखभाल की जिम्मेदारी उसकी होगी।

Share this story