कोरोना के कारण लंबे समय से बंद हुए स्कूलों को अब फिर से खोलने की प्रक्रिया शुरू
s

 कोरोना के कारण लंबे समय से बंद हुए स्कूलों को अब फिर से खोलने की प्रक्रिया (gujarat, haryana, bihar, jharkhand, up Government ) शुरू हो गई है. हालांकि राजधानी दिल्ली के स्कूल कब से खुलेंगे...इसका लोग इंतजार कर रहे हैं. इसी बीच दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने राष्ट्रीय राजधानी में फिलहाल स्कूलों को खोलने की किसी योजना से इनकार किया है. उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि जैसा कि हमने अंतरराष्ट्रीय परिपाटी देखी है, कोरोना वायरस की महामारी की तीसरी लहर आएगी, इसलिए जबतक वैक्सीन की प्रक्रिया पूरी नहीं हो जाती हम बच्चों के साथ कोई खतरा नहीं मोल सकते. इसलिए फिलहाल स्कूलों को दोबारा खोलने की योजना नहीं है.

इधर मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि आने वाले 25-26 जुलाई से 50 फीसदी क्षमता के साथ 11वीं और 12वीं की कक्षाएं शुरू हो सकती हैं. सीएम चौहान ने यह भी कहा है कि यदि सबकुछ ठीक रहा तो 15 अगस्त के बाद से नीचे की कक्षाओं को भी खोला जाएगा.

यूपी के स्कूल : आपको बता दें कि यूपी में 1 जुलाई से ही स्कूल खुल गये हैं. लेकिन फिलहाल स्कूलों में विद्यार्थियों के आने पर रोक है. स्कूल में फिलहाल सिर्फ शिक्षक और गैर शिक्षकों को आने की अनुमति दी गई है. बच्‍चों के लिए अभी जारी रहेगा ऑनलाइन क्‍लास.

बिहार में खुले स्कूल : बिहार में करीब तीन महीने के बाद एक बार फिर सीनियर वर्ग के बच्चों के लिये शहर के स्कूल पिछले दिनों से खोलने का काम सरकार ने किया है. वर्तमान में केवल 11वीं व 12वीं के बच्चे ही स्कूल जा पाएंगे.

गुजरात में शुरू होंगी कक्षा : गुजरात सरकार ने 15 जुलाई से 12वीं कक्षा के अलावा कॉलेजों और तकनीकी संस्थानों में 50 प्रतिशत क्षमता के साथ कक्षाएं शुरू करने की अनुमति प्रदान किया है. यहां छात्रों के लिए कक्षाओं में उपस्थिति होना अनिवार्य नहीं होगा, लेकिन यदि छात्रों को व्यक्तिगत रूप से उपस्थित होने के लिए कहा जाता है तो इसके लिए स्कूलों और कॉलेजों के अधिकारियों को माता-पिता की सहमति लेनी होगी.

हरियाणा में फिर से खुलेंगे स्कूल : हरियाणा सरकार ने घोषणा की कि 9वीं से 12वीं तक की कक्षाओं के लिए स्कूल 16 जुलाई से फिर से खुल जाएंगे और छात्रों को उनके माता-पिता की अनुमति से कक्षाओं में शामिल होने की अनुमति प्रदान की जाएगी. इसके अलावा कक्षा छह से आठ तक के विद्यार्थी भी 23 जुलाई से स्कूल में आ सकेंगे. छात्रों के लिए स्कूल आना अनिवार्य नहीं होगा क्योंकि ऑनलाइन कक्षाएं जारी रहेंगी. स्कूल आने वाले विद्यार्थियों के लिए सोशल डिस्टेंसिंग और अन्य नियम लागू होंगे। पांचवीं कक्षा तक के लिए स्कूल खोलने पर अभी कोई निर्णय नहीं लिया गया है.

महाराष्‍ट्र का हाल : पिछले दिनों महाराष्‍ट्र की स्कूल शिक्षा विभाग की मंत्री वर्षा गायकवाड़ ने कहा कि स्कूलों को कक्षा 8 से 12 के छात्रों के लिए 15 जुलाई से ऑफलाइन कक्षाएं फिर से शुरू करने की अनुमति प्रदान की गई है. उन्होंने कहा कि सूबे के अंतिम तबके के बच्चों तक पहुंचने के लिए सह-शैक्षिक दृष्टिकोण रखना समय की जरूरत बन चुकी है.

झारखंड का हाल : झारखंड में स्‍कूल खोलने को लेकर कुछ लोग आवाज उठाते नजर आ रहे हैं. हालांकि अभी तक की जो स्थिति नजर आ रही है, उससे यह कहा जा सकता है कि फिलहाल राज्‍य में स्‍कूल खोले जाने की कोई संभावना नहीं है. झारखंड में अनलॉक 6 के तहत कुछ छूट के साथ बाजार खुले हुए हैं लेकिन स्कूलों को लेकर निर्णय नहीं लिया गया है. हो सकता है कि अनलॉक 7 में सरकार कुछ स्कूल-कॉलेज को लेकर फैसला ले.

Share this story