प्रसूता अस्पताल आ रही एंबुलेंस का ब्रेक फेल, गर्भवती महिला सहित पांच लोग घायल
s

 

 हल्द्वानी : हैड़ाखान से प्रसूता और उसके पति को लेकर सुशीला तिवारी अस्पताल हल्‍द्वानी आ रही एंबुलेंस का ब्रेक फेल हो गया। ऐसे में एंबुलेंस में सवार लोगों की जान बचाने के लिए चालक ने सूझबूझ दिखाते हुए वाहन को पहाड़ी से टकरा दिया। हादसे में चालक, गर्भवती महिला सहित पांच लोग घायल हुए हैं। क्रेन की मदद से आगे की तरफ से पिचक गए एंबुलेंस को तोड़कर पायलट को बाहर निकाला गया।

हैड़ाखान निवासी महिला को लेबर पेन होने के बाद सुशीला तिवारी अस्पताल में बच्चे की डिलीवरी के लिए 108 एंबुलेंस से ले जाया जा रहा था। मंगलवार की सुबह काठगोदाम से करीब दो किलोमीटर ऊपर एंबुलेंस वाहन पहुंचा था। तड़के 6:07 पर पायलट कमल नयाल को पता चला कि एम्बुलेंस का ब्रेक फेल हो गया है।

पहाड़ी से नीचे की तरफ एंबुलेंस वाहन ने गति पकड़ना शुरू कर दिया। जिसे रोकने का कोई उपाय चालक को समझ में नहीं आया। ऐसे में मौत को सामने देख चालक ने सूझबूझ के साथ काम लिया और पहाड़ी की तरफ गाड़ी को साइड करते हुए टक्कर मार दी। जिससे एक झटके के साथ वाहन रुक गया। इस दौरान एंबुलेंस में मौजूद गर्भवती महिला को झटके के चलते चोट आई।

वहीं ऑक्सीजन सिलेंडर के झटके से महिला के पति की जांघ में चोट आई है। जबकि एंबुलेंस चालक कमल नयाल सीट व स्टेरिंग के बीच में फस गया। जिससे उसके पैर में गंभीर चोट आई है। एंबुलेंस वाहन में मौजूद फार्मेसिस्ट पंकज बिष्ट व गर्भवती महिला की सास को भी हल्की चोट आई है। पीछे से आ रहे बोलेरो वाहन ने गर्भवती महिला को समय पर सुशीला तिवारी अस्पताल पहुंचाया। जबकि स्थानीय लोगों की मदद से एंबुलेंस में फंसे चालक को निकालने का प्रयास किया गया।

108 एंबुलेंस प्रभारी लोकेश जोशी ने बताया कि क्रेन की मदद से आगे की तरफ से पिचक गए एंबुलेंस को तोड़कर पायलट को बाहर निकाला गया। जिसके बाद उसे अस्पताल ले जाया गया है। 108 एंबुलेंस प्रभारी लोकेश ने बताया कि पहाड़ी से नीचे की तरफ आते समय ब्रेक फेल होने के चलते दुर्घटना हुई है। अचानक से किन परिस्थितियों में ब्रेक फेल हुआ है, इस मामले की जांच की जा रही है।

Share this story