'लोगों को जान गंवानी पड़े भगवान इसे नहीं पसंद करेंगे: उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी 
s

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी दिल्ली दौरे पर हैं.कांवड यात्रा को लेकर उन्होंने कहा कि इसके लिए हम सिर्फ़ "होस्ट स्टेट" हैं, बाकी राज्यों की भी इसमें भूमिका है. उन्होंने कहा कि लाखों लोगों की आस्था का विषय है और इसके लिए हम तैयार हैं. साथ ही अरविंद केजरीवाल पर भी धामी ने टिप्पणी की.

कांवड़ यात्रा पर क्या बोले धामी?

दरअसल, वार्षिक कांवड़ यात्रा को पहले उत्तराखंड में तीरथ सिंह रावत के नेतृत्व वाली सरकार ने कोरोना महामारी के के चलते रद्द कर दिया था. हालांकि, धामी के मुख्यमंत्री के रूप में पदभार संभालने के बाद, उनकी सरकार ने उत्तराखंड राज्य से जुड़े वार्षिक धार्मिक तीर्थयात्रा पर अपने निर्णय पर पुनर्विचार करने का फैसला लिया.

यह पूछे जाने पर कि क्या इस मामले पर अभी तक कोई स्पष्ट फैसला आया है, धामी ने कहा, "उत्तराखंड केवल मेजबान है. हरियाणा, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और अन्य राज्यों से करोड़ों लोग यात्रा के लिए आते हैं. ऐसे में इन राज्यों से बात करने के बाद निर्णय लिया जाएगा."

उन्होंने आगे कहा, "यह लाखों लोगों की आस्था की बात है. हालांकि, लोगों की जान को खतरा नहीं होना चाहिए. जान बचाना हमारी पहली प्राथमिकता है. अगर यात्रा के कारण लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ती है तो भगवान इसे पसंद नहीं करेंगे."

अरविंद केजरीवाल पर कही ये बात

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को लेकर उन्होंने कहा कि उत्तराखंड में उनका स्वागत है. लेकिन वो हमारे लिए कोई चुनौती नहीं हैं. जनता काम पर वोट देती है प्रोपगैंडा पर नहीं.

Share this story