राजस्थान: आवासीय परिसर में एक महिला डॉक्टर ने कर ली आत्महत्या
s

राजस्थान के जोधपुर एम्स के आवासीय परिसर में एक महिला डॉक्टर ने दोपहर को ड्यूटी से आकर आत्महत्या कर ली. डॉक्टर जोधपुर के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान के भौतिक चिकित्सा एवं पुनर्वास विभाग में फिजियोथैरेपिस्ट के पद पर तैनात थी. डॉक्टर का नाम नीरू सोनी है.

बताया जा रहा है कि शनिवार दोपहर को नीरू सोनी अपनी ड्यूटी पूरी कर घर पहुंची और फिर घर पर सास और बच्चों से बात करके अपने कमरे में पहुंचकर दरवाजा बंद कर लिया. उसके कुछ देर बाद ही उनके आत्महत्या करने जानकारी मिली.

डॉक्टर नीरू सोनी के पति डॉक्टर पुनीत सेठिया एम्स में ही फॉरेंसिक मेडिसिन विभाग के एडिशनल प्रोफेसर के पद पर कार्यरत हैं. घटना के समय एम्स में अपने विभाग में थे. जानकारी मिलने पर वह तुरंत एम्स इमरजेंसी पहुंचे, जहां डॉक्टरों ने उनकी पत्नी डॉक्टर नीरू को बचाने के लिए सीपीआर देकर बचाने का प्रयास किए लेकिन बचा नहीं सके. डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया.

सूचना मिलने पर जोधपुर बासनी थानाधिकारी पाना चौधरी मौके पर पहुंची. फिलहाल FSL टीम को बुला कर मौके का जांच की जा रही है. एसीपी नूर मोहम्मद ने बताया कि डॉक्टर नीरू की बेटी अपने दोस्त को घर बुलाकर जन्मदिन मनाना चाहती थी. यह बात मां को पसंद नहीं आई जिस पर मां-बेटी के बीच विवाद हुआ फिर नीरू ने आवेश में आकर अपने को कमरे में बंद कर आत्महत्या कर ली.

वहीं, जानकारी के मुताबिक, उनके शव पर किसी पड़ोस में रहने वाले व्यक्ति की नजर पड़ी. इसके बाद आवासीय परिसर के लोगों ने ही गार्ड के साथ मिलकर शव को निकालकर इमरजेंसी पहुंचाया. उसके बाद पुलिस को मामले की सूचना दी गई. डॉक्टर नीरू का एक बेटा और एक बेटी है. एसीपी नूर मोहम्मद के मुताबिक, शव को एम्स की मोर्चरी में रखवाया गया है. दोनों पति-पत्नी दिल्ली के रहने वाले हैं. फिलहाल पुलिस गहनता से मामले की जांच कर रही है.

Share this story