तीसरी लहर सें लड़ेगा 'यूपी मॉडल', किये पुख्ता इंतजाम
s
Uttar Pradesh: कोरोना महामारी के बीच 'यूपी मॉडल' जनता को बचाने के लिए आया है। देश ही नहीं विदेशों में भी इस मॉडल की तारीफ हो रही हैं। योगी सरकार ने इस मॉडल (UP Model Update) को पूरी तरह से तैयार कर लिया है। और तीसरी लहर से पहले यूपीवासियों को पूरी तरह से बचाने की कोशिश की जाने वाली हैं।उत्तर प्रदेश में हो रहे पुख्ता इंतजाम, 714 अस्पतालों में 78,716 आइसोलेशन और आईसीयू बेड तैयार
यूपी में अस्पतालों में 92,00 से ज्यादा पीडियाट्रिक आईसीयू (पीकू) बेड तैयार
मेडिकल कॉलेजों में 6527 पीकू और इसी तरह जिला अस्पतालों में 1414 पीडियाट्रिक आइसोलेशन और 1265 पीकू बने
171 से अधिक ऑक्सीजन प्लांट लगे, 541 प्लांट पर चल रहा तीव्र गति से काम
ऑक्सीजन जेनरेटर के माध्यम से 15 फीसदी ऑक्सीजन की 3300 से अधिक बेडों पर हो रही आपूर्ति
देश-दुनिया में रोज कोरोना के केस बढ़ रहे, तो यूपी में घट रहे
आबादी के लिहाज से उत्तर प्रदेश से काफी छोटे राज्यों महाराष्ट्र, पंजाब, राजस्थान और छत्तीसगढ़ से बेहतर है यूपी
उत्तर प्रदेश में कुल एक्टिव केस घटकर महज 1188 रह गए
देश में कुल सक्रिय मामलों में 19वां और सक्रिय अनुपात में 32वां राज्य है यूपी
देश में कुल केसों के अनुपात में कोरोना से हुई मौतों में 18वें नंबर पर है यूपी
पंजाब, उत्तराखंड, महाराष्ट्र, नागालैंड, गोवा, दिल्ली, हिमाचल प्रदेश, अंडमान और निकोबार, मेघालय, मणिपुर, पुडुचेरी, झारखंड, सिक्किम, जम्मू कश्मीर, छत्तीसगढ़, तमिलनाडु और बिहार में यूपी से ज्यादा हुई मौतें
यूपी में राष्ट्रीय औसत से ज्यादा 98.6 फीसदी रिकवरी दर, कुल पॉजिटिविटी दर 2.70 फीसदी हुई
पिछले 24 घंटे में केरल में 13,956, महाराष्ट्र में 9,000, आंध्र प्रदेश में 2,974, तमिलनाडु में 2,079 और ओडिशा में 2,215 नए केस आए
यूपी में 2,18,725 नमूनों की जांच में सिर्फ 40 नए केस मिले और 99 डिस्चार्ज हुए
अलीगढ़, चित्रकूट, हाथरस, कासगंज, महोबा, शामली और श्रावस्ती कोरोना मुक्त
55 जिलों में नहीं मिला नया संक्रमित, 20 जिलों में एक अंकों में आए नए केस
देश में सर्वाधिक नमूनों 6,25,90,185 की जांच और टीके के कुल चार करोड़ से अधिक डोज लगाने वाला पहला राज्य बना यूपी
18 जुलाई तक लोगों को रिकॉर्ड कुल 4,03,68,183 डोज टीके के लगे
18 साल से अधिक आयु के लोगों को 1,49,09,248 और 45 साल से अधिक आयु के लोगों को 2,21,17,412 डोज टीके के लगे
75 फीसदी से अधिक हेल्थ केयर वर्कर और 60 फीसदी से अधिक फ्रंट लाइन वर्कर को टीके के दोनों डोज लगे
ट्रेस, टेस्ट, ट्रीट के साथ आंशिक कोरोना कर्फ्यू और टीकाकरण का नतीजा
यूपी में अग्रेसिव टेस्टिंग, माइक्रो कंटेनमेंट जोन, गांवों में निगरानी समितियों के माइक्रो मैनेजमेंट और ट्रीटमेंट से नियंत्रित हुआ कोरोना
विशेषज्ञों की तमाम आशंकाएं निर्मूल साबित हुईं, जिसमें उन्होंने कहा था कि उत्तर प्रदेश में हर रोज 30 लाख पॉजिटिव केस आएंगे
पांच मई से विशेष अभियान के तहत 70 हजार से अधिक निगरानी समितियां डोर टू डोर जाकर कर रही स्क्रीनिंग
अहतियातन लक्षणयुक्त बच्चों और युवाओं को अलग-अलग दी जा रहीं निशुल्क मेडिसिन किट

Share this story