उत्तर प्रदेश में हिंसा का नाम बदलकर मास्टरस्ट्रोक रख दिया गया है: राहुल गांधी
s

नई दिल्ली: यूपी में ब्लॉक प्रमुख चुनाव के नामांकन के दौरान गुरुवार को भारी अराजकता हुई थी. इस दौरान कई जगह हिंसा, गोलीबारी की घटनाएं सामने आईं. यूपी के कन्नौज, सीतापुर, उन्नाव, लखीमपुर खीरी, गोरखपुर, बहराइच से हिंसा की खबरें मिली. इसके बाद से कांग्रेस, समाजवादी पार्टी और बहुजनसमाज पार्टी लगातार बीजेपी पर हमलावर है. कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने शनिवार को बीजेपी पर निशाना साधा है.

राहुल गांधी ने एक खबर शेयर करते हुए ट्वीट में लिखा, "उत्तर प्रदेश में हिंसा का नाम बदलकर मास्टरस्ट्रोक रख दिया गया है." वहीं कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने बीजेपी पर एक महिला का नामांकन करने से रोकने का आरोप लगाया है. उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, "कुछ सालों पहले एक बलात्कार पीड़िता ने बीजेपी विधायक के खिलाफ आवाज उठाई थी, उसे व उसके परिवार को मारने की कोशिश की गई थी. आज एक महिला का नामांकन रोकने के लिए बीजेपी ने सारी हदें पार कर दीं. सरकार वही. व्यवहार वही.

मायावती बोलीं, बीजेपी चुनाव में कर रही सत्ता का दुरुपयोग
बीएसपी मुखिया मायावती ने भी बीजेपी पर निशाना साधा और कहा कि प्रमुख के चुनाव के दौरान भी सत्ता व धनबल का घोर दुरुपयोग व हिंसा आदि जो हो रही है. वह सपा शासन की ऐसी अनेकों यादें ताजा कराता है. इसीलिए बीएसपी ने इन दोनों अप्रत्यक्ष चुनावों को नहीं लड़ने का फैसला लिया.

उन्होंने आगे कहा कि अब यूपी विधानसभा का चुनाव निकट है, तब बीजेपी सरकार के विरुद्ध सपा जो जुबानी विरोध व आक्रामकता दिखा रही है. वह घोर छलावा व अविश्वसनीय, क्योंकि इन्हीं सब सत्ता के दुरुपयोग व हर कीमत पर चुनाव जीतने आदि के लिए सपा का पूरा शासनकाल काफी चर्चाओं में रहा. जनता कुछ भी नहीं भूली.

ब्लॉक प्रमुख के चुनाव में हुई हिंसा पर मुख्यमंत्री सख्त
ब्लाक प्रमुख चुनाव के नामांकन के दौरान हिंसा और अभद्रता के मामले पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कड़ा रुख अपनाया है. इस मामले में सीओ के साथ थाना प्रभारी और तीन सब इंस्पेक्टर पर गाज गिराई है. मुख्यमंत्री ने शुक्रवार को टीम-09 के साथ समीक्षा बैठक में गुरुवार को ब्लाक प्रमुख चुनाव के नामांकन के दौरान जिलों में हिंसा और अभद्रता पर रिपोर्ट तलब की. उन्होंने लखीमपुर में महिला प्रस्ताव के साथ अभद्रता के मामले में सीओ, एसओ, तीन सब इंस्पेक्टर को निलंबित करने के निर्देश दे दिए. इसके अलावा आरोपी के खिलाफ गैंगेस्टर एक्ट के तहत और रासुका लगाने के भी निर्देश दिए हैं. इतना ही नहीं उन्होंने मौके पर मौजूद लापरवाही बरतने वाले अन्य पुलिअधिकारियों के खिलाफ भी कड़ी कार्रवाई का निर्देश दिया है.

Share this story