प्राइवेट स्कूलों नए सत्र 2021 -22 में 15 से 20 परसेंट स्कूल में की गयी फ़ीस में  बढ़ोतरी अभिभावक ने कहाँ

प्राइवेट स्कूलों नए सत्र 2021 -22 में 15 से 20 परसेंट स्कूल में की गयी फ़ीस में बढ़ोतरी अभिभावक ने कहाँ

बोकारो से शेखर की रिपोर्ट


जहां एक तरफ करोना संक्रमण से पूरा शहर डरा हुआ है  ऐसे में जिले के प्राइवेट स्कूल पर की फीस जमा करने के लिए अभिभावक पर दबाव बना रहे हैं गत वर्ष के लॉकडाउन लगाने के बाद दोबारा इस वर्ष भी लॉकडाउन से अभिभावक के समक्ष परेशानी है वहीं दूसरी ओर कई निजी स्कूल ने इस सत्र 2021 22 में 15 से 20 परसेंट तक ट्यूशन फी में बढ़ोतरी कर दी है जबकि इस लॉकडाउन से पहले ही गतिविधियां बढ़ी हुई है ऐसे में स्कूलों की तरफ से फोन या मैसेज से अभिभावक परेशान है कई स्कूलों में तो अभिभावक को फोन करके ऑनलाइन क्लास से हटाने की धमकी भी दी जा रही है बार-बार अभिभावकों के मोबाइल पर मैसेज भेज कर फीस जमा करने का दबाव बना रहे हैं कल स्कूल नहीं बंद स्कूलों का भी पूरी फीस जमा करने के लिए संदेश भेजना शुरू कर दिया है वहीं बोकारो के डीएवी पब्लिक स्कूल मैं तो अभिभावक को ठीक है साहब री एडमिशन और डेवलपमेंट चार्ज जिसे कहा जाता है पूरा मांगा जा रहा है आपको बताते जाएं कि फी के सिलसिले में बोकारो के डीएवी स्कूल में अभिभावक और प्रिंसिपल के साथ झड़प भी हो चुकी है स्कूल की फीस को लेकर अभिभावक का कहना है कि निजी स्कूल की ओर से ऑनलाइन क्लासेज के नाम पर पीस तो मांगी जा रही है लेकिन ऑनलाइन क्लास के नाम पर औपचारिकता निभाई जा रही है स्कूल तो बच्चे को 20 मिनट भी नहीं पढ़ा रहे हैं इस्लाम दान के दौरान भी स्कूल प्रबंधक ने 20 परसेंट ट्यूशन फीस में बढ़ोतरी कर अभिभावक की कमर तोड़ दी है जबकि स्कूल की ओर से बच्चों को ऑनलाइन क्लास के माध्यम से पढ़ाया जा रहा है इस कारण स्कूल प्रबंधन को ट्यूशन फीस में बढ़ोतरी नहीं करनी चाहिए थी वही 11 की एडमिशन को लेकर प्राइवेट स्कूल मोटी रकम वसूल रहे हैं

Share this story