सुनील गावस्कर हो गए आज 72 साल के, उनके बर्थडे पर जानते हैं कुछ खास बातें
S
भारतीय क्रिेकेट टीम के पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर आज अपना 72वां जन्मदिन मना रहे हैं। क्रिकेट करियर के दौरान उन्होंने कई उपलब्धियां अपने नाम दर्ज कीं। कुछ रिकॉर्ड उनके ऐसे हैं जो आज तक नहीं टूट पाए। टेस्ट क्रिकेट में सबसे पहले 10 हजार रन पूरे करने का करिश्मा लिटिल मास्टर गावस्कर ने किया था। वह उस समय बिना हेलमेट लगाए खेलते रहे जब वेस्टइंडीज के तूफानी गेंदबाजों की गेंदें कान के पास सीटी बजाते निलकलती थीं। 34 साल पहले अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कह चुके सुनील गावस्कर के खास रिकॉर्ड पर आइए एक नजर डालते हैं।डेब्यू सीरीज में सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड लिटिल मास्टर के ऩाम से मशूहर सुनील गावस्कर ने मार्च 1971 में वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट करियर की शुरुआत की।पोर्ट ऑफ स्पेन में खेले डेब्यू टेस्ट में उन्होंने पहली पारी में 65 और दूसरी इनिंग्स ने 67 रन बनाए। यह मैच भारत सात विकेट से जीतने में सफल रहा। पांच मैचों की टेस्ट सीरीज में सुनील गावस्कर ने 774 रन बनाए थे। इस दौरान उन्होंने 4 शतक और 3 अर्धशतक लगाए। पूरी दुनिया में आज भी कोई बल्लेबाज अपनी डेब्यू सीरीज में इतने रन नहीं बना पाया है।वेस्टइंडीज के खिलाफ सबसे ज्यादा शतक लगाने का रिकॉर्ड सुनील गावस्कर दुनिया के इकलौते बल्लेबाज हैं जिन्होंने टेस्ट मैच में वेस्टइंडीज के खिलाफ सबसे ज्यादा शतक लगाने का करिश्मा किया। उन्होंने यह उपलब्धि ऐसे वक्त हासिल की थी जब कैरेबियाई गेंदबाजों को खेलने में दुनियाभर के बल्लेबाज कतराते थे। गावस्कर ने अपने क्रिकेट करियर के दौरान जोएल गार्नर, माइकल होल्डिंग, एंडी रॉबर्ट्स और मैलकम मार्शल जैसे तूफानी गेंदबाजों का सामना किया। उन्हें वेस्टइंडीज के खिलाफ 27 टेस्ट खेले जिनमें 13 शतक जड़े।चौथी पारी में सबसे ज्यादा शतक लगाने वाले भारतीय क्रिकेटर सुनील गावस्कर ने अपने टेस्ट करिया में 34 शतक लगाए थे। इनमें से चार शतक उन्होंने टेस्ट मैच की चौथी पारी में पूरे किए। ऐसा कहा जाता है कि चौथी पारी में बल्लेबाजी करना मुश्किल होता है। लेकिन गावस्कर ने इस बात को झूठ साबित कर दिया। वह चौथी इनिंग्स में चार शतक लगाने वाले भारत के इकलौते बल्लेबाज है। वैसे टेस्ट मैच की चौथी पारी में सबसे ज्यादा शतक लगाने का रिकॉर्ड पाकिस्तान के यूनुस खान के नाम दर्ज है। उन्होंने चौथी इनिंग्स में 5 शतक लगाए हैं।टेस्ट मैच की चारों पारियों में दोहरा शतक लगाने वाले दुनिया के पहले क्रिकेट सुनील गावस्कर के नाम एक और अद्धभुत रिकॉर्ड है। वह दुनिया के पहले क्रिकेटर रहे जिन्होंने टेस्ट मैच की चारों पारियों में दोहरे शतक लगाए हैं। साल 1978 में गावस्कर ने वेस्टइंडीज के खिलाफ मुंबई में खेलते हुए पहली पारी में 205 रन बनाए। साल 1983 में कैरेबियाई टीम के खिलाफ चेन्नई टेस्ट में उन्होंने दूसरी पारी में 236 रनों का स्कोर किया। 1971 में वेस्टइंडीज के विरुद्ध तीसरी इनिंग्स ने 220 रन बनाए। वहीं 1979 में इंग्लैंड के खिलाफ ओवल टेस्ट में 221 रन उन्होंने चौथी पारी में बनाए थे।सलामी बल्लेबाज को तौर पर टेस्ट में सबसे ज्यादा स्ट्राइकर मैच के दौरान जो बल्लेबाज पहली गेंद खेलता है उसे स्ट्राइकर या ऩंबर 1 ओपनर कहा जाता है। टेस्ट में नंबर एक पर बल्लेबाजी करते हुए सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड सुनील गावस्कर के नाम है। उन्होंने इस पोजीशन पर बैटिंग करते हुए 8511 रन बनाए। उनके अलावा दुनिया में ऐसा कोई दूसरा बल्लेबाज नहीं है जिसने टेस्ट में 8 हजार रन नंबर एक बल्लेबाजी करते हुए बनाए हों।

Share this story