हर घर जल योजना से जनपद के समस्त मजरों को लाभान्वित किया जाए- जिलाधिकारी

हर घर जल योजना से जनपद के समस्त मजरों को लाभान्वित किया जाए- जिलाधिकारी

रवि तिवारी की रिपोर्ट

कन्नौज - हर घर जल योजना से जनपद के समस्त मजरों को लाभान्वित किया जाए। ग्रामीण पेयजल योजनाओं को पूर्ण किये जाने हेतु शासन से बजट की मांग की जाए। 163 राजस्व ग्रामों हेतु पेयजल योजनाओं के पुनर्गठन हेतु प्राक्कलन तैयार कर जिला पेयजल स्वच्छता समिति के माध्यम से राज्य पेयजल स्वच्छता समिति को अग्रसारित की जाए।

उक्त निर्देश आज जिलाधिकारी राकेश कुमार मिश्र द्वारा कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित जल जीवन मिशन कार्यक्रम के कार्यों की समीक्षा बैठक के दौरान उपस्थित जिला स्तरीय समिति के सदस्यों को दिए। उन्होंने ग्रामीण पेयजल योजनाओं के संबंध में जानकारी की जिसमें बताया गया कि जनपद में 153 नग ग्रामीण पेयजल योजनाएं पूर्ण हो चुकी हैं एवं ग्राम करमुल्लापुर मैं ग्रामीण पेयजल योजना के अंतर्गत कार्य को माह सितंबर 2021 तक पूर्ण कर लिया जाएगा। बैठक में बताया गया कि जनपद में ग्राम पंचायतों द्वारा संचालित 139 नग ग्रामीण पेयजल योजनाएं हैं इसके अतिरिक्त 12 अन्य योजना है ग्राम पंचायतों को हस्तांतरित की जानी है जिसकी कार्यवाही शीघ्र पूर्ण कर ली जाएगी।

जिलाधिकारी द्वारा पूछे जाने पर बताया गया कि रिट्रोफिटिंग ग्रामीण पेयजल योजना के अंतर्गत हर घर नल योजना के दृष्टिगत जनपद के 586 मजरे लाभान्वित करने हेतु कुल 51733 नग गृह जन संयोजन के लक्ष्य के सापेक्ष अभी तक 19995 नग पूर्ण किए जा चुके हैं एवं पूर्व में योजनाओं के अंतर्गत 33693 नग ग्रह जल संयोजन किए जा चुके हैं इसको संज्ञान में लेते हुए जिलाधिकारी ने किए गए कनेक्शन को संबंधित घरों में प्रयोग में लाए जाने हेतु आवश्यक निर्देश देते हुए कहा कि शीघ्र सभी घरों को हर घर नल योजना से आच्छादित किया जाए। उन्होंने बताया कि जल जीवन मिशन के अंतर्गत राज्य पेयजल स्वच्छता मिशन द्वारा 163 नग राजस्व ग्रामों का चयन किया गया है

जिसमें 18  नग गुणवत्ता प्रभावित बस्तियों एवं 19 नग पुनर्गठन पेयजल योजनाओं हेतु प्राक्कलन तैयार कर जिला पेयजल स्वच्छता मिशन समिति के माध्यम से राज्य स्तरीय पेयजल स्वच्छता मिशन समिति को शीघ्र अग्रसारित कराए जाने के निर्देश दिए। बैठक में बताया गया कि 100 दिन के अभियान के अंतर्गत यूपीपीसीएल द्वारा 575 नग स्कूलों/ आंगनवाड़ी केंद्रों के लक्ष्य के सापेक्ष कुल 273 नग हैंडपंपों में समरसेबल पंप लगाकर भेजो संबंधित कार्य कराए गए हैं।

जिलाधिकारी ने हर घर जल योजना को त्वरित गति प्रदान करने के उद्देश्य से आगामी दो दिनों में जल निगम के अंतर्गत कार्य करने वाले ठेकेदारों के साथ मुख्य विकास अधिकारी की अध्यक्षता में बैठक आयोजित कराने के निर्देश दिए एवं यह भी स्पष्ट किया की यह योजना शासन द्वारा जनहित में संचालित की गई है जिसमें किसी प्रकार की शिथिलता बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

बैठक में मुख्य विकास अधिकारी आर0एन सिंह, पूर्व प्रधानाचार्य एन0सी0टण्डन, जिला वानिकी अधिकारी,  उपनिदेशक कृषि, अधिशासी अभियंता जल निगम, अवर अभियंता लघु सिंचाई, जिला पंचायत राज अधिकारी, परियोजना निदेशक, जिला सूचना अधिकारी सहित अन्य समिति के पढ़ें सदस्य उपस्थित थे।

Share this story