स्टेशन पर अफरातफरी, बिना जांच निकल गये सैकड़ों यात्री
स्टेशन पर अफरातफरी, बिना जांच निकल गये सैकड़ों यात्री

प्रतापगढ़।

मुंबई से आई उद्योग नगरी से आई भीड़ को जब यह पता चला कि कोरोना कि जांच किट खत्म हो गई तो लोग भागना शुरू कर दिए। जिससे स्टेशन पर अफरा तफरी मच गई ।भारी भीड़ को रोक पाना मुट्ठी भर जीआरपी के पुलिसकर्मियों के बस की बात नहीं थी। भीड़ का।फॉयदा उठाकर कितने संक्रमित यात्री बिना जांच के ही निकल भागने में सफल हो गए इसका अंदाजा लगाना मुश्किल है।

हालांकि शुरुआती जांच में एक महिला सहित तीन यात्री एंटीजन जांच में कोरोना पॉजिटिव मिले। जिन्हें एंबुलेंस के जरिए एल टू हॉस्पिटल में भेजा गया।जानकारी के अनुसार बुधवार को रात में आई उद्योग नगरी के यात्रियों की कोरोना जांच स्वास्थ्य टीम प्लेटफार्म पर कर रही थी। अभी वह करीब डेढ़ सौ यात्रियों की ही जांच कर पाई थी कि पता चला कि किट खत्म हो गई। स्वास्थ्य कर्मियों ने देखा कि यात्रियों की लंबी लाइन लगी है जिसमें करीब डेढ़ से दो सौ यात्री हैं। किट के अभाव में उन्होंने बाकी यात्रियों का टेस्ट करने से हाथ खड़े कर दिए। इस बारे में जब।जीआरपी वालों ने स्वास्थ्य कर्मियों से पूछा तो उन्होंने जवाब दिया कि उनके पास पर्याप्त जांच किट नहीं है।करीब 200 किट मिली है।

इसी में से उद्योग नगरी और हरिद्वार एक्सप्रेस ट्रेन के यात्रियों की जांच करनी है। करीब पौने दो सौ किट उद्योग नगरी में ही खर्च हो गई है। अगर बाकी यात्रियों की जांच हुई तो हरिद्वार के लिए जांच किट नहीं बच पाएगी। इसलिए मजबूरी में भीड़ को बिना जांच के छोड़ना पड़ेगा। यह जानकारी जब लाइन में लगे यात्रियों की हुई तो लोग भागना शुरू कर दिए। हालांकि एसओ जीआरपी फूल सिंह ने यात्रियों की सहूलियत के लिए तीन लाइन लगवाई थी। लेकिन जांच किट खत्म होने से पुलिस वालों की सारी कवायद पर पानी फिर गया। जांच टीम की संख्या कम होने से भी यह दिक्कत आई है। स्वास्थ्य कर्मियों ने बताया कि आधी जांच टीम नहीं आई है। स्कैनिंग न होने से भी किट से जांच का दायरा बढ़ गया था। इसलिए भी किट जल्दी खत्म हो गई। जांच न होने की यह भी एक वजह है। फिलहाल बिना जांच के निकले यात्रियों से कोरोना का संक्रमण बढ़ने का खतरा बढ़ गया है।

Share this story