काेराेना वैक्सीनेशन-सीएम योगी की बढ़ी चिंता

काेराेना वैक्सीनेशन-सीएम योगी की बढ़ी चिंता

बरेली, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ चाह रहे हैं कि सभी जनप्रतिनिधि कोरोना संक्रमण रोकने में पूरा सहयोग करें। सभी एक स्वास्थ्य केंद्र को गोद लें। वहां जांच, दवा और वैक्सीन लगवाने की व्यवस्थाएं पूरी करें। वार्डों में महीने भर वैक्सीनेशन का जो आंकड़ा दिखाई दे रहा है, उससे पार्षदों की भूमिका साफ पता चल रही है। जहां पार्षद सक्रिय हुए वहां टीकाकरण बढ़ गया। कई वार्डों में जनप्रतिनिधियों के निष्क्रिय रहने से टीकाकरण बढ़ नहीं पाया है।

स्वास्थ्य विभाग ने नगर निगम क्षेत्र में 18 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बनाए हैं। इन स्वास्थ्य केंद्रों से शहर के 80 वार्डों को चिकित्सा सुविधा दी जाती है। कोरोना संक्रमण के दौरान से ही सभी केंद्रों पर मरीजों की जांच, दवा किट का वितरण और वैक्सीनेशन का काम किया जा रहा है। कोरोना के समय वार्ड के लोगों की मदद के लिए तमाम पार्षद भी आगे आए हैं।

मरीजों की जांच कराने, दवा दिलवाने व वैक्सीनेशन करवाने का काम पार्षद करा रहे हैं। जहां भी पार्षदों ने इस काम में रुचि दिखाई है, वहां वैक्सीनेशन का आंकड़ा तेजी से बढ़ा है। जहां पार्षद बेपरवाह हैं वहां लोगों को तमाम मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। वह लोगों को कोरोना रोधी टीका लगवाने के लिए भी तैयार नहीं कर पा रहे हैं। कोरोना की तीसरी लहर रोकने के लिए उनके प्रयास नगण्य हैं।

शहर के सभी पार्षद गोद लेंगे स्वास्थ्य केंद्र

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को महापौर व नगर आयुक्त के साथ हुए वर्चुअल संवाद में पार्षदों से स्वास्थ्य केंद्रों को गोद लेने के लिए कहा है। उनका कहना है कि पार्षद पीएचसी में मरीजों के लिए व्यवस्थाएं उपलब्ध कराएं। नगर निगम स्वास्थ्य केंद्रों तक सड़क, नाली, पानी आदि की सुविधा दे। वहां छह बेड लगाकर आक्सीजन सिलिंडर की भी व्यवस्था की जाए। इसके बाद महापौर ने सभी पार्षदों से स्वास्थ्य केंद्र गोद लेने को कहा है।

नगर निगम के सभी पार्षद अपने क्षेत्रों में स्थित सरकारी स्वास्थ्य केंद्रों को गोद लेंगे। वहां मरीजों को भर्ती करने के लिए छह बेड की व्यवस्था की जाएगी। इसके साथ ही आक्सीजन की व्यवस्था भी करेंगे। स्वास्थ्य केंद्रों पर कोरोना रोधी टीकाकरण बढ़ाने का भी प्रयास किया जाएगा। डॉ. उमेश गौतम, महापौर

Share this story