उपजिलाधिकारी को सौंपा शिकायती पत्र माननीयों में लगी एजेंट बनने की होड़ प्रतिद्वंद्वी प्रत्यासी ने जताया ऐतराज़
उपजिलाधिकारी को सौंपा शिकायती पत्र माननीयों में लगी एजेंट बनने की होड़ प्रतिद्वंद्वी प्रत्यासी ने जताया ऐतराज़

मोहित गुप्ता की रिपोर्ट

हरदोई, जनपद से जनता की आवाज सुनो क्या कहती है जनता एक कहावत है कि सम्मान इंसान का नही उसके पद का होता है।
एक समय था जब श्रीकृष्ण शास्त्री भाजपा के जिलाध्यक्ष थे तब उनके सामने कोई बात नही करता था और अच्छे अच्छे नेता उनके पीछे चलते थे आज वही श्रीकृष्ण शास्त्री दलबदलू नेताओ के यहाँ हाजरी लगाते हुए देखे जा रहे है और आमजन प्रत्यासी पूर्व जिलाध्यक्ष की खुलेआम शिकायत कर रहे है।
दरअसल बावन द्वितीय कौड़ा से पूर्व जिलाध्यक्ष श्रीकृष्ण शास्त्री की धर्मपत्नी सुशीला शास्त्री क्षेत्र पंचायत सदस्य का चुनाव लड़ रही है जिसकी मतगणना 2 मई को होनी है।
बावन द्वितीय से प्रत्यासी प्रताप सिंह (शिकायतकर्ता) ने उपजिलाधिकारी को शिकायती पत्र दिया है कि श्रीकृष्ण शास्त्री भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष थे व प्रभावशाली ब्यक्ति है जिस कारण मतगणना कर्मचारियों पर अपने प्रभाव का इस्तेमाल कर मतगणना को प्रभावित कर सकते है।श्रीकृष्ण शास्त्री किसी अन्य क्षेत्र पंचायत सदस्य के एजेंट बन कर मतगणना को प्रभावित करना चाहते है।उपजिलाधिकारी ने संबंधित शिकायती पत्र को रिटर्निंग अधिकारी को आवश्यक कार्यवाही करने हेतु भेज दिया है।
सबसे बड़ा सवाल यह है कि सत्ताधीशो पर कार्यवाही करेगा कौन।
हर राजनीतिक ब्यक्ति की अपनी महत्वाकांक्षा होती है सूत्रों से प्राप्त जानकारी में अनुसार श्रीकृष्ण शास्त्री बावन का ब्लाक प्रमुख बनने का सपना पाले हुए है इस कारण वह अपनी धर्मपत्नी को चुनाव लड़वा रहे है अब उनका सपना साकार होता है या नही यह तो मतगणना के बाद भी पता चल पाएगा

Share this story