UP: आकाशीय बिजली गिरने से 10 जिलों में 40 लोगों की मौत, 4-4 लाख के मुआवजे का ऐलान

UP: आकाशीय बिजली गिरने से 10 जिलों में अब तक 40 लोगों की मौत, 4-4 लाख के मुआवजे का ऐलान

यूपी में कई जगहों पर रविवार को हुई बारिश (UP Rain) के बाद 10 जिलों में आकाशीय बिजली गिरने से 40 लोगों की मौत हो (Thunder Lightning) गई. कानपुर देहात में 6, फतेहपुर में 7, हमीरपुर में 2, प्रयागराज में 13, कौशांबी में 3, प्रतापगढ़ में 2, आगरा में 3, चित्रकूट में 2, वाराणसी और रायबरेली में 1-1 शख्स की जान बिजली गिरने की वजह से चली गई. वहीं इस घटना में कई लोग गंभीर रूप से घायल भी हुए हैं.

आकाशीय बिजली (Thunder Lightning) की वजह से मरने वालों में महिलाएं कई बच्चे भी शामिल है. प्रयागराज में अलग-अलग जगहों पर बच्चे और बड़े आकाशीय बजली का शिकार हो गए. वहीं 8 मवेशियों की भी जान जाने की खबर है. कानपुर देहात में दो महिलाओं समेत 6 लोगों की मौत बिजली गिरने की वजह से हो गई. वहीं तीन लोग गंभीर रूप से घायल हो गए. उन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

बिजली गिरने से 40 लोगों की मौत

बिजली गिरने से प्रयागराज में हुई मौतों पर सीएम योगी ने स्वत: संज्ञान लेते हुए पीड़ित परिवारों के लिए 4-4 लाख रुपये के मुआवजे का ऐलान किया है. बतादें कि रविवार को प्रयागराज में की जगहों पर बारिश हुई. बारिश की वजह से जहां लोगों को गर्मी से राहत मिली तो वही कई घरों में बिजली गिरने से मातम पसर गया. यहां 2 बच्चों समेत 13 लोगों की मौत हो गई. वहीं 8 भैंस और बकरियों की भी आकाशीय बिजली की चपेट में आकर मौत हो गई.

बताया जा रहा है कि कोरांव थाना के भागेश्वर गांव में दो बच्चे घर से बकरी चराने निकले थे. तेज बारिश में भीगने से बचने के लिए बच्चे आम के पेड़ के नीचे बैठ गए थे. तभी आकाशीय बिजली गिरने की वजह से 11 और 12 साल के दोनों बच्चों की मौत हो गई. वहीं मुहली गांव में एक 55 साल के शख्स की भी मौत हो गई.

 पेड़ के नीचे बैठे लोगों पर गिरी बिजली

वहीं प्रयागराज के शंकरगढ़ थाना इलाके में होमगार्ड कामता प्रसाद रविवार दोपहर को धान की फसल देखने खेत गए थे. तभी अचानक बारिश शुरू हो गई, जिसके बाद वह पेड़ के नीचे बैठ गए. तभी आकाशीय बिजली की चपेट में आने से उनकी मौत हो गई.

आकाशीय बिजली गिरने से बड़ी संख्या में हुई लोगों की मौत पर सीएम योगी ने दुख जाहिर किया है. साथ ही मृतकों के परिजनों को 4-4 लाख रुपये आर्थिक सहायता देने का भी ऐलान किया. साथ ही प्रशासन को निर्देश जारी किए कि घायलों को तुरंत इलाज दिया जाए. वहीं कानपुर के भोगनीपुर इलाके में भी आकाशीय बिजली की चपेट में आने से 2 बच्चों और महिलाओं समेत 6 लोगों की मौत हो गई. वहीं फिरोजाबाद में पशुओं के लिए चारा लेने गए तीन किसान भी आकाशीय बिजली की चपेट में आ गए. जिससे उनकी मौत हो गई.

Share this story