मुलायम के बाद अखिलेश भी लगवाएंगे टीका, ट्वीट कर कही ये बात
मुलायम के बाद अखिलेश भी लगवाएंगे टीका, ट्वीट कर कही ये बात

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के संस्थापक मुलायम सिंह यादव के कोरोना वैक्सीन लगवाने के एक दिन बाद ही समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने यू-टर्न ले लिया है। मंगलवार को उन्होंने एक ट्वीट किया जिसमें उनके सुर बदले हुए नजर आए। उन्होंने कहा कि वह भाजपा के टीके के खिलाफ थे, लेकिन भारत सरकार का टीका लगवाएंगे। लोगों को टीका लगवाने के लिए प्रेरित भी करेंगे। उन्होंने यह भी कहा कि टीके की कमी से जो लोग लगवा नहीं सके थे उनसे भी लगवाने की अपील करते हैं। इससे पहले अखिलेश ने कोरोना वैक्सीन को भाजपा का टीका बताते हुए इसे न लगवाने की बात कही थी।

सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने मंदलवार को ट्वीट कर लिखा कि 'जनाक्रोश को देखते हुए आखिरकार सरकार ने कोरोना के टीके के राजनीतिकरण की जगह ये घोषणा करी कि वो टीके लगवाएगी। हम भाजपा के टीके के खिलाफ थे पर भारत सरकार के टीके का स्वागत करते हुए हम भी टीका लगवाएंगे व टीके की कमी से जो लोग लगवा नहीं सके थे उनसे भी लगवाने की अपील करते हैं।'

अखिलेश यादव ने मुलायम सिंह को लगवाई वैक्सीन : समाजवादी पार्टी के संरक्षक और पूर्व रक्षा मंत्री मुलायम सिंह यादव ने सोमवार को गुरुग्राम मेदांता अस्पताल में कोरोनारोधी टीके की पहली डोज ली है। बताया जाता है कि इस दौरान मुलायम सिंह के साथ सपा अध्यक्ष व उनके पुत्र अखिलेश यादव और परिवार के कई अन्य सदस्य भी मौजूद थे। अखिलेश यादव शुरू में जीवनरक्षक वैक्सीन को बीजेपी वैक्सीन बता चुके हैं। मुलायम सिंह यादव कुछ समय पहले कोरोना पाजिटिव हो गए थे। वह समय-समय पर अपने सेहत की जांच कराने को लेकर मेदांता अस्पताल आते रहते हैं। सोमवार को उनका आना इंटरनेट मीडिया पर चर्चा का विषय बन गया।

मुलायम से प्रेरणा लें सपाई, अखिलेश मांगें माफी : समाजवादी पार्टी संरक्षक मुलायम सिंह यादव के वैक्सीन लगवाने की भाजपाइयों ने सराहना की तो साथ ही सपाइयों को नसीहत भी दी। वैक्सीन को लेकर अखिलेश यादव द्वारा टिप्पणी करने की याद दिलाते हुए अफवाह फैलाने पर माफी मांगने की मांग की। भाजपा के वरिष्ठ नेताओं ने वैक्सीन लगवाते हुए मुलायम सिंह यादव की फोटो ट्विटर पर टैग की और सपाइयों पर तंज किया। कार्यकर्ताओं को मुलायम से प्रेरणा लेने की सलाह दी और अखिलेश यादव को वैक्सीन के बारे में दुष्प्रचार करने पर घेरा।

Share this story