एक और जिले को कोरोना कर्फ्यू से राहत, सक्रिय मामलों की संख्या 600 से कम हुई
एक और जिले को कोरोना कर्फ्यू से राहत, सक्रिय मामलों की संख्या 600 से कम हुई

लखनऊ। कोरोना संक्रमण की भयावह स्थिति की वजह से करीब एक माह तक प्रतिबंधों में जकड़े रहे उत्तर प्रदेश की स्थिति काफी हद तक सुधर चुकी है। इसे देखते हुए ही सरकार ने व्यवस्था बना दी है कि जिन जिलों में कोरोना के 600 से कम सक्रिय मामले होंगे, वहां आंशिक कोरोना कर्फ्यू से छूट दे दी जाएगी। अब तक 64 जिले इस श्रेणी में थे और गुरुवार को जारी रिपोर्ट के आधार पर झांसी को भी प्रतिबंधों से मुक्त कर दिया गया। इस बीच मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस बात पर चिंता जताई है कि कुछ जिलों में लापरवाही की जा रही है। बाजारों में कोविड प्रोटोकॉल का उल्लंघन किया जा रहा है।

उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण की स्थिति की समीक्षा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को लोकभवन स्थित अपने कार्यालय में की। उन्होंने कहा कि कोरोना की कम होती संक्रमण दर को देखते हुए पिछले दिनों 600 एक्टिव केस से कम संख्या वाले 64 जिलों को आंशिक कोरोना कर्फ्यू से छूट दी गई थी। ताजा स्थिति के अनुसार झांसी में भी सक्रिय मामले 600 से कम हो गए हैं। अब यहां भी सप्ताह में पांच दिन सुबह सात से शाम सात बजे तक कोरोना कर्फ्यू से छूट दी जाए। साप्ताहिक व रात्रिकालीन बंदी सहित अन्य सभी संबंधित नियम इन जिलों में लागू होंगे। इसके बाद अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी की ओर से इस संबंध में आदेश भी जारी कर दिया गया।

पुलिस-प्रशासन को सक्रियता बढ़ाने की जरूरत : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने समीक्षा के दौरान कहा कि कई जिलों में लोगों के मास्क न लगाने, बाजारों में अनावश्यक भीड़, शारीरिक दूरी का पालन न करने जैसी जानकारी मिली है। यह स्थिति किसी के लिए भी अच्छी नहीं है। कोरोना महामारी के खिलाफ लड़ाई जीतने के लिए हर एक नागरिक का सहयोग जरूरी है। पुलिस-प्रशासन को सक्रियता बढ़ाने की जरूरत है।

टीकाकरण में शरारत बर्दाश्त नहीं : सीएम योगी आदित्यनाथ ने कोविड प्रोटोकाल के पालन के साथ ही टीकाकरण को लेकर भी आगाह किया। उन्होंने कहा कि देश के कुछ क्षेत्रों के साथ-साथ प्रदेश के कुछ जिलों से टीकाकरण में लापरवाही या शरारतपूर्ण गतिविधियों की जानकारी आई है। यह कतई उचित नहीं है और बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। इन घटनाओं को आपराधिक मानते हुए दोषी कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई की जाए।

अब इन दस जिलों में कोरोना कर्फ्यू

  • जिले : सक्रिय मामले
  • 1. मेरठ : 1625
  • 2. सहारनपुर : 1601
  • 3. लखनऊ : 1485
  • 4. वाराणसी : 1458
  • 5. मुजफ्फरनगर : 1267
  • 6. गोरखपुर : 995
  • 7. गौतमबुद्ध नगर : 730
  • 8. गाजियाबाद : 727
  • 9. बरेली : 719
  • 10. बुलंदशहर : 702

Share this story