अफगानिस्तान में विस्फोट के बाद बिजली टॉवर नष्ट होने से ब्लैकआउट की चपेट कई प्रान्त 
अफगानिस्तान में विस्फोट के बाद बिजली टॉवर नष्ट होने से ब्लैकआउट की चपेट कई प्रान्त 
काबुल| अफगानिस्तान की राष्ट्रीय बिजली कंपनी ब्रेशना शेरकट ने मंगलवार को इसकी पुष्टि की है कि एक विस्फोट में बिजली का टॉवर नष्ट हो जाने से अफगानिस्तान के कई प्रांत ब्लैकआउट की चपेट में आ गए हैं।

कंपनी ने एक बयान में कहा, सोमवार को काबुल के उत्तर में परवान प्रांत के सालंग जिले में घटना रात 9.55 बजे की है।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, काबुल और अन्य प्रांतों में बिजली के टॉवर की मरम्मत और बिजली ट्रांसमिशन फिर से शुरू करने के लिए एक तकनीकी टीम को क्षेत्र में भेजा गया है।

ब्रेशना शेरकट के एक क्षेत्रीय कार्यालय से कहा गया है कि हेरात प्रांत में, अज्ञात बदमाशों ने मंगलवार तड़के कोहसान जिले में एक बिजली के टॉवर को नष्ट कर दिया। ईरान से प्रांतीय राजधानी हेरात शहर में बाहरी बिजली को भी काट दिया।

आतंकवाद से त्रस्त अफगानिस्तान बिजली की कमी का सामना कर रहा है क्योंकि देश के पास दिन और रात के समय सीमित घंटे बिजली है।

कमी को दूर करने के लिए, सरकार ने पड़ोसी ईरान, उज्बेकिस्तान, तुर्कमेनिस्तानऔर ताजिकिस्तान से बिजली का आयात किया है, लेकिन घरेलू जरूरत को पूरा करने के लिए यह अभी भी बहुत कम है।

घटना के लिए किसी भी समूह ने जिम्मेदारी नहीं ली है।

हाल के महीनों में पावर ग्रिड में हुए विस्फोटों से दो दर्जन बिजली के टॉवर नष्ट हो गए हैं या क्षतिग्रस्त हो गए हैं।

Share this story