रूसी राष्ट्रपति पुतिन बोले- पीएम मोदी और शी सीमा विवाद सुलझाने में सक्षम, नहीं है तीसरे की जरूरत

रूसी राष्ट्रपति पुतिन बोले- पीएम मोदी और शी सीमा विवाद सुलझाने में सक्षम, नहीं है तीसरे की जरूरत

सेंट पीटर्सबर्ग। रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Russian President Vladimir Putin) ने शनिवार को भारत और चीन के बीच सीमा जारी तनाव के मसले पर अपनी बात रखी। पुतिन ने कहा कि भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग दोनों ही जिम्मेदार नेता है। दोनों ही नेता भारत और चीन के बीच मुद्दों का समाधान करने में सक्षम हैं। पुतिन ने दो-टूक कहा कि किसी भी ताकत को इस प्रक्रिया में दखलंदाजी नहीं करना चाहिए।

रूस द्वारा चार देशों के समूह क्वाड की सार्वजनिक आलोचना करने के बीच पुतिन ने कहा कि किसी राष्ट्र को किसी पहल में किस तरह शामिल होना चाहिए इसका आकलन किया जाना चाहिए। किसी राष्‍ट्र को अन्य देशों के साथ किस सीमा तक संबंध बनाने चाहिए इसके आकलन का काम हमारा नहीं है। हालांकि उन्‍होंने यह भी कहा कि कोई भी साझेदारी किसी अन्य के खिलाफ एकजुट होने के मकसद से नहीं होनी चाहिए। 

क्वाड में भारत के शामिल होने पर मॉस्को की राय के बारे में पूछे गए सवाल के जवाब में पुतिन ने यह बयान दिया। गौर करने वाली बात है कि चीनी राष्‍ट्रपति शी चिनफिंग ने कहा था कि क्‍वाड (भारत, अमेरिका, जापान और ऑस्ट्रेलिया) समूह हिंद-प्रशांत क्षेत्र में बीजिंग के प्रभाव को नियंत्रित करने के लिए बनाया गया है। भारत और चीन के बीच सीमा पर जारी तनाव को लेकर रूसी राष्‍ट्रपति ने कहा कि पड़ोसी देशों के बीच ऐसे मुद्दे होते हैं। 

पुतिन ने डिजिटल संवाद में कहा कि मैं भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग दोनों के रुख से अवगत हूं। वे बहुत ही जिम्मेदार लोग हैं और एक-दूसरे के साथ पूरे सम्मान के साथ पेश आते हैं। मुझे भरोसा है कि सामने कोई भी मसला क्‍यों न आ जाए दोनों ही नेता उसका समाधान निकाल लेंगे। हालांकि इसमें बेहद जरूरी यह है कि क्षेत्र से इतर किसी भी ताकत को इसमें दखल नहीं देना चाहिए। 

Share this story